Breaking News
Home » Sports » IPL12, DC vs CSK: फाइनल की राह में दिल्ली के सामने चेन्नई की चुनौती

IPL12, DC vs CSK: फाइनल की राह में दिल्ली के सामने चेन्नई की चुनौती

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल (IPL)) के 12वें संस्करण में बदले हुए नाम से उतरी दिल्ली फ्रेंचाइजी ने अपने प्रदर्शन से खुद के इतिहास में बड़ा बदलाव करते हुए सभी को हैरान किया है. इस साल छह सीजन बाद प्लेऑफ में पहुंचने वाली दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) ने पहली बार अंतिम-4 में जीत हासिल की और अब पहली बार फाइनल में पहुंचने से एक कदम की दूरी पर है. दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) को शुक्रवार को यहां होने वाले दूसरे क्वॉलीफायर में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को हराने के लिये कड़ी मशक्कत करनी होगी जिसके बाद ही उसका अपने पहले आईपीएल (IPL) फाइनल में पहुंचने का रास्ता साफ होगा.

Image result for IPL12, DC vs CSK

चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने ही दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) को चेपक पर 80 रन से शिकस्त देकर लीग तालिका में शीर्ष दो स्थान हासिल करने से रोक दिया था और अब फिर क्वॉलीफायर 2 में महेंद्र सिंह धोनी की टीम उसकी राह में खड़ी है.

दिल्ली ने प्लेऑफ राउंड के एलिमिनेटर मुकाबले में पूर्व विजेता सनराइजर्स हैदराबाद को मात दे क्वालीफायर-2 में जगह बनाई है जहां उसका सामना गत विजेता चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) से शुक्रवार को डॉ. वाई राजशेखरेड्डी एसीए-वीडीसीए क्रिकेट स्टेडियम में होना है.

Image result for IPL12, DC vs CSK

एलिमिनेटर मैच के अंतिम ओवरों के तनावपूर्ण क्षण में मिली जीत में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के स्टार खिलाड़ी ऋषभ पंत ने अहम भूमिका अदा की जिससे टीम का मनोबल बढ़ा होगा. हालांकि वह टीम के लिये मैच फिनिश नहीं कर सके जिससे उन्हें इसकी आलोचना का सामना भी करना होगा.

एक अन्य युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ ने 56 रन की अर्धशतकीय पारी से महत्वपूर्ण भूमिका निभायी और पिछली तीन पारियों में कम स्कोर बनाने के बाद टीम के लिये अच्छा योगदान करके वह खुश होंगे.

आईपीएल (IPL) के इतिहास की सबसे सफल टीमों में गिनी जाने वाली चेन्नई को क्वालीफायर-1 में तीन बार की विजेता मुंबई इंडियंस ने मात दी थी और फाइनल में प्रवेश किया. उस हार से हालांकि चेन्नई बाहर नहीं हुई. उसे क्वालीफायर-2 में फाइनल में जाने का एक और मौका मिल रहा है.

Image result for IPL12, DC vs CSK

दिल्ली की टीम यहां पहले ही एक मैच (एलिमिनेटर) खेल चुकी है तो उसे यहां की परिस्थितियों को बेहतर तरीके से जानने का फायदा मिलेगा. उसके तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट और इशांत शर्मा ने कागिसो रबाडा की अनुपस्थिति में अच्छा प्रदर्शन किया और कीमो पॉल ने उनका अच्छा साथ निभाते हुए तीन विकेट हासिल किये.

अनुभवी स्पिनर अमित मिश्रा फिर से किफायती रहे और उन्होंने एक विकेट भी प्राप्त किया. टीम के बल्लेबाज भी राहत की सांस लेंगे कि उन्हें इमरान ताहिर और हरभजन सिंह की फिरकी का सामना चेन्नई में टर्न लेती पिच पर नहीं करना होगा लेकिन फिर भी इनसे निपटना उनके लिये चुनौतीपूर्ण होगा. हालांकि टीम एलिमिनेटर में खेलकर आगे के मुश्किल मुकाबले के लिये निश्चित रूप से तैयार हो गयी होगी.

वहीं दूसरी ओर महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई के लिए हालांकि यह दूसरा क्वालीफायर कांटे भरे रास्ते से कम नहीं होगा क्योंकि दिल्ली की टीम इस समय शानदार फॉर्म में हैं और लगातार अपने खेल में सुधार कर रही है.

चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) इस तरह के बड़े मैचों में खेलने की आदी है, वह तीन बार इस खिताब को जीतने के अलावा चार बार उप विजेता रह चुकी है. टीम को हालांकि क्वालीफायर एक में मुंबई इंडियंस से शिकस्त झेलनी पड़ी लेकिन वह स्टाइल में वापसी करेगी.

मुंबई इंडियंस के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन के बाद धोनी अपने बल्लेबाजों से सुधरे प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे.

सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन 23 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 53 गेंद में 96 रन की पारी खेलने के बाद ज्यादा रन नहीं जुटा सके हैं. टीम के करिश्माई कप्तान ने स्वीकार किया था कि मुंबई इंडियंस के खिलाफ घरेलू मैच में वे पिच के हालात को समझ सकते थे और उन्होंने अपने बल्लेबाजों को शाट चयन के बारे में ताकीद भी किया.

धोनी ने मुंबई से छह विकेट की हार के बाद कहा, ‘हमारे पास ये सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं, ऐसा दिखता है कि हम अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं लेकिन कभी कभार वे ऐसे शाट खेलते हैं जो उन्हें नहीं खेलने चाहिए. ये खिलाड़ी अनुभवी हैं और उन्हें हालात को बेहतर तरीके से समझना चाहिए. ’

About dhamaka