Breaking News
Home » Sports » IPL 2019 : चेन्नई को 1 रन से हराकर मुंबई इंडियन्स चौथी बार बनी आईपीएल चैंपियन

IPL 2019 : चेन्नई को 1 रन से हराकर मुंबई इंडियन्स चौथी बार बनी आईपीएल चैंपियन

राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में रविवार को खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग आईपीएल के 12वें सीजन के फाइनल मैच में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) चौथी बार चैंपियन बनी। गत विजेता चेन्नई को रोमांचक मुकाबले में 1 रन से हराकर मुंबई ने खिताब अपने नाम कर लिया। आईपीएल के 12वें सीजन का खिताब जीतने के लिए चेन्र्न सुपर किंग्स को 150 रन चाहिए थे, लेकिन उनकी टीम 20 ओवरों में 148 रन ही बना सकी। चेन्नई के लिए आखिरी ओवर तक सब सही जा रहा था, लेकिन मलिंगा के इस ओवर में शेन वाटसन 80 के रन आउट होने से बाजी पलट गई। आखिरी गेंद पर चेन्नई को जीत के लिए दो रन चाहिए थे।

Related image
लसिथ मलिंगा ने इसी गेंद पर शादरूल ठाकुर को पगबाधा आउट करा मुंबई के खाते में चौथा आईपीएल खिताब डाल दिया। मुंबई के खिलाड़ियों ने इसके बाद मलिंगा को कन्धों पर उठाकर जीत का जश्न मनाया। मुंबई का यह पांचवां फाइनल था और उसने चौथी बार खिताब अपने नाम किया। मुंबई ने इससे पहले 2013, 2015 तथा 2017 में खिताब जीता था। गत चैंपियन चेन्नई ने एक रन की हार के साथ अपना खिताब गंवा दिया। चेन्नई के लिए 80 रन बनाने वाले शेन वाटसन का आखिरी ओवर में रन आउट होना चेन्नई को चोट पहुंचा गया और चेन्नई का चौथी बार खिताब जीतने का सपना टूट गया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और वाटसन का रन आउट होना मैच का टर्निंग पॉइंट रहा।लक्ष्य का पीछा करते हुए, चेन्नई ने अच्छी शुरुआत की और पिछले मैच के मैन ऑफ द मैच फाफ डू प्लेसिस ने तेजी से 13 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 26 रन ठोके, लेकिन एक बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में वह लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या की गेंद की लाइन चूके और कॉक ने उन्हें आसानी से स्टंप कर दिया। छले मैच में अर्धशतक बनाने वाले शेन वाटसन ने सुरेश रैना के साथ दूसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े। रैना को राहुल चाहर ने पगबाधा किया।

Related image

इससे पहले कैरेबियाई धुरंधर कीरोन पोलार्ड की नाबाद 41 रन की शानदार पारी की बदौलत मुंबई इंडियंस ने आठ विकेट पर 149 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। पोलार्ड ने 25 गेंदों पर नाबाद 41 रन में तीन चौके और तीन छक्के लगाए। पोलार्ड ने पारी की आखिरी दो गेंदों पर ड्वेन ब्रावो पर दो चौके मारकर मुंबई को 149 तक पहुंचाया। ओपनर कॉक ने 29, कप्तान रोहित शर्मा ने 15, सूर्यकुमार यादव ने 15, ईशान किशन ने 23 और हार्दिक पांड्या ने 16 रन बनाये।

Image result for मुंबई इंडियन्स चौथी बार बनी आईपीएल चैंपियन

मुंबई के कप्तान रोहित ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। टीम की शुरुआत अच्छी रही और डी कॉक तथा रोहित ने पहले विकेट के लिए 45 रन की साझेदारी की, लेकिन मुंबई ने फिर इसी स्कोर पर दोनों ओपनरों के विकेट गंवा दिए। डी कॉक को शादरुल ठाकुर ने और रोहित को दीपक चाहर ने आउट किया। डी कॉक ने 17 गेंदों पर 29 रन में चार छक्के लगाए, जबकि रोहित ने 14 गेंदों पर 15 रन में एक चौका और एक छक्का लगाया।

कायरन पोलार्ड अंपायर के एक फैसले पर अपने जुदा अंदाज में विरोध जताते नजर आए। मुंबई की पारी का आखिरी ओवर चल रहा था। बर्थडे बॉय पोलार्ड क्रीज पर बल्लेबाजी कर रहे थे और दूसरी ओर दीपक चहर गेंदबाजी कर रहे थे। ओवर की दूसरी गेंद विकेटों से काफी दूर थी लेकिन पोलार्ड वाइड बॉल का मार्क के काफी करीब होकर खेल रहे थे इसलिए अंपायर ने इसे वाइड नहीं दिया। अगली गेंद ब्रावो की फिर काफी बाहर थी, लेकिन अंपायर ने वाइड नहीं दी।
इससे पोलार्ड ने अपना बल्ला हवा में उछाल दिया। इसके बाद अगली गेंद के लिए पोलार्ड ने गार्ड लिया और ड्वेन ब्रावो के रनअप के दौरान ही वह तीनों स्टंप्स पीछे छोड़ लगभग पिच के कोने पर बल्लेबाजी करने पहुंच गए। ब्रावो ने यह देखकर अपना बोलिंग ऐक्शन लोड नहीं किया और वह गेंद फेंकने से रुक गए। इसके बाद अंपायर्स ने जाकर इस कैरेबियाई खिलाड़ी से बात की।

धोनी बने आईपीएल में सबसे ज्यादा शिकार करने वाले विकेटकीपर
चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी आईपीएल में सबसे ज्यादा शिकार करने वाले विकेटकीपर बन गए हैं। फाइनल मुकाबले में रोहित शर्मा का कैच पकड़कर धोनी ने यह रेकॉर्ड अपने नाम किया। धोनी ने आईपीएल में विकेट के पीछे अब 132 शिकार कर लिए हैं। उन्होंने इसमें 94 कैच और 38 स्टंप किए हैं। उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स के दिनेश कार्तिक को पीछे छोड़ा जिनके नाम 131 शिकार थे। इसमें 101 कैच और 30 स्टंप हैं।

ऐसा रहा मलिंगा का अंतिम ओवर
आखिरी ओवर में मलिंगा की पहली गेंद पर एक रन गया। दूसरी गेंद पर जडेजा ने सिंगल चुरा लिया। दर्शकों की धड़कनें तेज होती जा रही थीं। तीसरी गेंद पर वाटसन ने दो रन लिए, लेकिन चौथी गेंद पर वाटसन दूसरा रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। वाटसन ने 59 गेंदों पर आठ चौकों और चार छक्कों की मदद से 80 रन बनाये। चेन्नई को अब दो गेंदों पर चार रन चाहिए थे। पांचवीं गेंद पर दो रन से स्कोर 148 रन हो गया। अब एक गेंद और चेन्नई को चाहिए थे दो रन। मलिंगा ने शादरुल ठाकुर को आखिरी गेंद पर पगबाधा कर मुंबई को जश्न में डुबो दिया।

इस प्रकार थी दोनों टीमें-
मुंबई इंडियंस: रोहित शर्मा (कप्तान), हार्दिक पांड्या, युवराज सिंह, क्रुणाल पांड्या, ईशान किशन (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, मयंक मारकंडे, राहुल चाहर, अनूकुल रॉय, सिद्धेश लाड, आदित्य तारे, क्विंटन डी कॉक, एविन लुइस, केरन पोलार्ड, बेन कटिंग, मिशेल मैक्लेनघन, एडम मिल्ने, जेसन बेहरेनडॉर्फ, अनमोलप्रीत सिंह, बरिंदर सरन, पंकज जायसवाल, रसिख सलाम, जसप्रीत बुमराह।

चेन्नई सुपर किंग्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), अंबाती रायडू, शेन वाटसन, सुरेश रैना, केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, ड्वायन ब्रावो, दीपक चहर, शार्दूल ठाकुर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर, मुरली विजय, ध्रुव शौरे, फाफ डु प्लेसिस, ऋतुराज गायकवाड़, मिशेल सैंटनर, डेविड विली, सैम बिलिंग्स, समीर, मोनू कुमार, कर्ण शर्मा, केएम आसिफ, मोहित शर्मा।

About dhamaka