Breaking News
Home » States » 150 करोड़ की ‘वर्चुअल रैली’ का मकसद,विपक्ष का मनोबल तोड़ना चाहती है बीजेपी:अखिलेश यादव

150 करोड़ की ‘वर्चुअल रैली’ का मकसद,विपक्ष का मनोबल तोड़ना चाहती है बीजेपी:अखिलेश यादव

Spread News with other

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने ‘वर्चुअल रैली’ को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है। सपा अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा कि झारखंड में बुरी तरह चुनाव हार चुकी भाजपा बिहार में भी जनता का विरोधी रुख़ समझ रही है, इसीलिए वो 150 करोड़ रुपए की ‘वर्चुअल रैली’ करके अपने धन-बल का प्रदर्शन कर विपक्ष का मनोबल तोड़ना चाहती है। बिहार में भाजपा का तथाकथित गठबंधन गुटबाज़ी और परस्पर अविश्वास का त्रिकोण बन गया है।
जानकारी के अनुसार, बिहार में इसी साल के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने तैयारियां तेज कर दी हैं। यही वजह है कि पार्टी ने पहली वर्चुअल रैली का आयोजन किया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस वर्चुअल रैली को संबोधित किया। 7 जून की शाम चार बजे आयोजित की गई इस रैली को लेकर दावा किया गया है कि बिहार में अपनी तरह की पहली वर्चुअल रैली को देशभर में करीब 1 करोड़ से ज्यादा लोगों ने देखा।

About dhamaka