Breaking News
Home » International » हनीट्रैप ही नहीं, ‘गुरुजी’ और ‘बाबाजी’ के जरिए भी जवानों को फंसा रहा है पाकिस्तान

हनीट्रैप ही नहीं, ‘गुरुजी’ और ‘बाबाजी’ के जरिए भी जवानों को फंसा रहा है पाकिस्तान

पाकिस्तानी सेना हनीट्रैप के जरिए भारतीय जवानों को फंसाकर उनसे महत्वपूर्ण जानकारी हासिल करने की कोशिश में लगी रहती है। भारतीय सेना के ऐसे ही दो जवानों को गिरफ्तार किया गया है, जो हनीट्रैप में फंसकर पाकिस्तान को महत्ववपूर्ण जानकारी दे रहे थे। सेना के जवानों को फंसाने के लिए अब पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के लोग ‘गुरुजी’ और ‘बाबाजी’ भी बन बैठे हैं।

Image result for HONEYTRAP PAAKISTAAN

दरअसल पाकिस्तानी सेना और आईएसआई भारतीय जवानों को फंसाने के लिए धार्मिक और आध्यात्मिक गुरुओं के नामों का इस्तेमाल कर रहे हैं। सेना ने एडवाइजरी जारी कर सुरक्षाबलों को ऐसे फोन कॉल्स, फेसबुक, स्काइप कॉल्स से दूर रहने को कहा है, जो खुद को कोई धार्मिक या आध्यात्मिक गुरु बताए।

पाकिस्तानी सेना और आईएसआई भारतीय जवानों को फंसाने के लिए उसने फोन, यूट्यूब और फेसबुक के जरिए संपर्क करती है और फिर धीरे-धीरे संपर्क बढ़ाकर बातों-बातों में उनसे जानकारी जुटाने की कोशिश करती है। सेना ने जवानों से यू-ट्यूब, टिक टॉक, बीगो लाइव, व्हाट्स एप्प, गूगल, आईएमओ, ड्यूओ एप्प पर बेहद सावधानी बरतने को कहा है। इन Apps के जरिए जवानों की पर्सनल डिटेल पाकिस्तान आसानी से जुटा सकता है।

Image result for HONEYTRAP PAAKISTAAN
इसके अलावा पाकिस्तान भारतीय सेना की मूवमेंट की जानकारी हासिल करने के लिए रेलवे के क्लर्कों को भी साधने के प्रयास कर रहा है। पाकिस्तान झांसी, बबीना, सुरतगढ़, लखनऊ जैसी जगहों के रेलवे क्लर्कों के जरिए मिलिट्री अधिकारियों की भी मूवमेंट की जानकारी हसिल करने की कोशिश में लगा हुआ है।

पोखरण से गिरफ्तार किए गए दो जवान

हनीट्रैप में फंसकर पाकिस्तान को महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले दो जवानों रवि वर्मा और विचित्र बहेरा को 3 नवंबर को पोखरम से गिरफ्तार किया गया। इन दोनों को Seerath नाम की फेसबुक आईडी के जरिए पाकिस्तान ने फंसाया। पाकिस्तानी इंटैलिजेंस ऑपरेटिव हनीट्रेप के जरिए सेना के अफसरों को भी टारगेट करते है।

About dhamaka