Breaking News
Home » National » सरकार आरोप लगाने की आदत से मजबूर है:मनमोहन सिंह

सरकार आरोप लगाने की आदत से मजबूर है:मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बयान का जवाब देते हुए गुरुवार को कहा कि सरकार समस्याओं का समाधान तलाशने की बजाय विपक्षियों पर आरोप लगाने की आदत से मजबूर है। सीतारमण ने बुधवार को कहा था कि मनमोहन सिंह और आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन के समय सरकारी बैंक सबसे बुरे दौर में थे।

‘पिछले 5 साल में महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा फैक्ट्रियां बंद हुईं’
मनमोहन सिंह महाराष्ट्र चुनाव के सिलसिले में मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए असली दिक्कतों और वजहों का पता लगाना जरूरी होता है। सरकार की उदासीनता से देश के लोगों की महत्वाकांक्षाएं और भविष्य प्रभावित हो रहा है। महाराष्ट्र में बिजनेस सेंटीमेंट बिगड़े हुए हैं। कई फैक्ट्रियों के बंद होने का खतरा मंडरा रहा है। पिछले 5 साल में महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा फैक्ट्रियां बंद हुईं। केंद्र और महाराष्ट्र की सरकार जनता के अनूकूल नीतियां अपनाना नहीं चाहती।

About dhamaka