Home » Sports » शोएब अख्तर का दावा- मेरी ये बात मानते ही खतरनाक हो गए मोहम्मद शमी

शोएब अख्तर का दावा- मेरी ये बात मानते ही खतरनाक हो गए मोहम्मद शमी

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की रिवर्स स्विंग के मुरीद हो गए हैं. उन्होंने शमी की जमकर तारीफ की. साथ ही शोएब अख्तर को इस बात का मलाल है कि कोई भी पाकिस्तानी तेज गेंदबाज उनसे सलाह नहीं लेता, लेकिन उन्हें खुशी है कि शमी अपनी तेज गेंदबाजी को लेकर उनके संपर्क में रहते हैं.

साउथ अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम टेस्ट में भारत की जीत में मो. शमी ने अहम भूमिका निभाई थी. ‘रावलपिंडी एक्सप्रेस’ के नाम से मशहूर शोएब अख्तर ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर दावा किया कि मोहम्मद शमी ने उनकी सलाह

विशाखापत्तनम टेस्ट में भारत की जीत में शमी ने अहम भूमिका निभाईमोहम्मद शमी ने शोएब अख्तर की सलाह मानी और वह कामयाब रहे

मानी और वह कामयाब रहे. दरअसल, उन्होंने एक बार शमी को सलाह दी थी कि वह रिवर्स स्विंग का इस्तेमाल कर खतरनाक गेंदबाज बनने की कोशिश करें.

शोएब अख्तर ने 6 साल पहले ही रोहित शर्मा से कहा था- अपने नाम के आगे G लगा लो

शोएब अख्तर ने कहा, ‘वर्ल्ड कप के बाद मुझे शमी का फोन आया. वह हिंदुस्तान के हारने से काफी निराश थे. उन्हें इस बात का दुख था कि वह आखिरी मैच (सेमीफाइनल) में खेल नहीं पाए. मैंने उनको तसल्ली दी. मैंने शमी से कहा कि इस वक्त आप फॉर्म हो और फिटनेस को देखते हुए बेहतर स्थिति में हो. आप विराट कोहली के साथ चलो. ‘

शोएब अख्तर ने तब शमी से आने वाली सीरीज की बात कही थी, ‘होम सीरीज (साउथ अफ्रीका के खिलाफ) आने वाली है और आप अपनी फिटनेस बनाए रखें. मैं चाहता हूं कि आप खतरनाक गेंदबाज बनें और बल्लेबाजों को परेशान करें.’ शोएब अख्तर ने शमी की तरीफ करते हुए कहा, ‘उनके पास अच्छी सीम और स्विंग है. उनके पास रिवर्स स्विंग है, जो उपमहाद्वीप में कम ही गेंदबाजों के पास है. मैंने उनसे कहा था कि वह रिवर्स स्विंग के सुल्तान बन सकते हैं.’

शमी ने शोएब अख्तर की सलाह मानी और साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट की दूसरी पारी में मैच जिताऊ 5 विकेट निकाले. शोएब अख्तर ने कहा, ‘अब देखिए, उन्होंने क्या किया. शमी ने खराब पिच पर विकेट निकाले. मैं उनके लिए खुश हूं.’

शमी ने उड़ाए अफ्रीका के होश, घातक गेंदबाजी से बनाए कई रिकॉर्ड्स

शोएब अख्तर ने कहा कि वह पाकिस्तानी पेसरों को सलाह देने के लिए तैयार हैं, लेकिन कोई उनसे मदद के लिए नहीं कह रहा है. उन्होंने कहा, ‘अफसोस की बात है कि हमारे पाकिस्तानी तेज गेंदबाज मुझसे नहीं पूछते हैं कि वे अपनी गेंदबाजी में कैसे सुधार कर सकते हैं, लेकिन शमी जैसे भारतीय गेंदबाज ऐसा कर रहे हैं. यह एक दुखद परिदृश्य है, जहां तक मेरे देश का संबंध है.’

About dhamaka