Breaking News
Home » States » राज्यपाल राम नाईक ने विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक की पुस्तक “स्वस्ति मार्ग ” कार्यवृत्त का विमोचन किया..

राज्यपाल राम नाईक ने विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक की पुस्तक “स्वस्ति मार्ग ” कार्यवृत्त का विमोचन किया..

Lucknow :  लखनऊः 9 मार्च, 2019
उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने प्रदेश के विधि एवं न्याय, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत और राजनैतिक पेंशन विभाग के मंत्री ब्रजेश पाठक के विभागों के क्रियाकलापों एवं उपलब्धियों की कार्यवृत्त पुस्तिका ‘स्वस्ति मार्ग’ का आज गोमती नगर स्थित एक होटल में विमोचन किया। इस अवसर पर मंत्री ब्रजेश पाठक सहित उनकी पत्नी श्रीमती नम्रता पाठक, पुत्री और परिजन, चिकित्सा एवं प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टण्डन, सिंचाई एवं सिंचाई (यांत्रिक) मंत्री धर्मपाल सिंह, विज्ञान एवं प्रौद्योगिक इलेक्ट्रानिक्स, मुस्लिम वक्फ और हज राज्य मंत्री मोहसिन रजा, उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति एवं जनजाति

ब्रजेश पाठक अत्यन्त सक्रिय जननेता हैं – नाईक
मैंने अपने 2 वर्ष के कार्यवृत्त अनुभव एवं सुख और दुख दोनों के क्षण इस पुस्तक के माध्यम से आप सभी के समक्ष प्रस्तुत किए हैं समय बहुत अल्प था इसकी प्रेरणा माननीय श्री राज्यपाल जी से मुझको मिली और आगे से मेरा प्रयास होगा कि मैं हर वर्ष अपने कार्यवृत्त एवं किए हुए कार्यों का लेखा जोखा आप सभी के समक्ष प्रस्तुत करें -बृजेश पाठक….. कार्यक्रम में लखनऊ वरन प्रदेश के नामचीन व्यक्ति मशहूर विभिन्न विधाओं की विभूतियां शामिल रहे कार्यक्रम की शुरुआत बृजेश पाठक की धर्मपत्नी नम्रता पाठक एवं पुत्री शांभवी पाठक ने गवर्नर राम नाईक को पुष्प दे कर के सम्मानित किया राज्यपाल राम नाईक ने यह कहा की पाठक जी की कार्यशैली देखकर के ऐसा प्रतीत होता है की उनका परिवार भी उनके साथ हर क्षण में खड़ा हुआ है

वित्त विकास निगम के अध्यक्ष लालजी प्रसाद निर्मल, भारतीय जनता पार्टी लखनऊ महानगर के अध्यक्ष मुकेश शर्मा, पद्मश्री सुनील योगी, संस्था ‘अभियान’ मुंबई के अध्यक्ष अमरजीत मिश्र, भारत समाचार के संपादक बृजेश मिश्रा, योगेश प्रवीन सहित अन्य विशिष्टजन भी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि पुस्तिका ‘स्वस्ति मार्ग’ में सरकार गठन से अब तक मंत्री ब्रजेश पाठक के अधीन विभागों के किये गये कार्यों एवं योजनाओं की जानकारी दी गयी है।
राज्यपाल ने अपने जीवन पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है। वे मुंबई से 3 बार विधायक एवं 5 बार सांसद रहे हैं। केन्द्र सरकार में पेट्रोलियम, रेल सहित अन्य महत्वूपर्ण मंत्रालयों के कार्यों के निर्वहन के साथ-साथ उनके पास भारतीय जनता पार्टी के विधायक एवं सांसदों को प्रशिक्षण देने के प्रकोष्ठ का भी कार्य था। वर्ष 2010 से 2014 तक वे भारतीय जनता पार्टी के सुशासन प्रकल्प के संयोजक थे। राज्यपाल के रूप में उन्होंने इसी भूमिका में प्रदेश की नई सरकार के शपथ ग्रहण के पश्चात् मुख्यमंत्री सहित सभी मंत्रियों को राजभवन आमंत्रित कर उनके कर्तव्य एवं दायित्वों के साथ-साथ उनसे अपेक्षाओं पर भी चर्चा की। उन्होंने बताया कि विधान सभा में चुनकर आये नये जनप्रतिनिधियों का भी एक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिससे उन्हें संसदीय नियमों एवं कार्यों की जानकारी हो सके।
नाईक ने मंत्री  ब्रजेश पाठक का अभिनन्दन करते हुये कहा कि  ब्रजेश पाठक ने अपने कार्यों की जानकारी हेतु कार्यवृत्त प्रस्तुत किया है जो अनुकरणीय है।  ब्रजेश पाठक द्वारा प्रस्तुत कार्यवृत्त में चित्रों एवं लेखों को बहुत ही सुुंदर एवं सामंजस्यपूर्ण तरीके से प्रस्तुत कर उनके क्रियाकलापों की सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है। कार्यवृत्त के अध्ययन से पता चलता है कि वे अत्यन्त सक्रिय जननेता है। राज्यपाल ने सुझाव दिया कि मंत्रियों को अपने विभागों सहित विधायक के रूप में अपने क्षेत्र में किये गये कार्यों की भी जानकारी कार्यवृत्त में देनी चाहिए। जनप्रतिनिधि जनता के प्रति जवाबदेह होते हैं। सरकार एवं मंत्रियों को अपने द्वारा किये गये कार्यों को जनता के समक्ष कार्यवृत्त के रूप में प्रकाशन करना चाहिए। इससे जनता को आपके कार्यों की जानकारी होती है। राज्यपाल ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुये कहा कि उनके सुझाव पर यह कार्यवृत्त प्रकाशन का प्रथम कार्यक्रम हो रहा है। राज्यपाल ने कहा कि कार्यवृत्त का प्रकाशन प्रतिवर्ष करना चाहिए।

About dhamaka