Breaking News
Home » Uncategorized » यूपी में एक साथ धुले हजारों हाथ – CM योगी का स्वछता संदेश साफ, कोरोना को यूपी देगा मात

यूपी में एक साथ धुले हजारों हाथ – CM योगी का स्वछता संदेश साफ, कोरोना को यूपी देगा मात

Spread News with other

यूपी में आम लोगों ने हाथ धोने की मुहिम में बढ़ चढ़ कर शामिल होकर कोरोना को यूपी में मात देने के सीएम योगी के अभियान को बल दिया।
यूपी में हजारों हाथ एक साथ धुले। कोरोना को हराने के लिए सब एक साथ आए। जन प्रतिनिधियों,कर्मचारियों और अफसरों ने समूहिक रूप से हाथ धोकर लोगों को स्‍वच्‍छता और स्‍वास्‍थ्‍य का संदेश दिया। आम लोगों ने हाथ धोने की मुहिम में बढ़ चढ़ कर शामिल होकर कोरोना को यूपी में मात देने के सीएम योगी के अभियान को बल दिया।
अस्‍पताल,स्‍कूल,सरकारी व निजी कार्यालय,खेल के मैदान से लेकर विधान सभा सचिवालय तक, गुरुवार की सुबह दस बजने के साथ नजारा कुछ अलग था। मास्‍क के साथ सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करते हुए लोग एक साथ साबुन से हाथ धुलते नजर आए। अफसर हों या कर्मचारी या जन प्रतिनिधि और समाज सेवी, सभी स्‍वस्‍थ यूपी, स्‍वच्‍छ यूपी की सीएम योगी की मुहिम को आगे बढ़ा रहे थे। सुबह 10 से 12 बजे तक हाथ धुलने का सिलसिला चलता रहा।
स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यालय,अस्पताल, स्कूल, आंगनवाड़ी केंद्र, पंचायती राज विभाग के कर्मचारी हैण्‍ड वाशिंग डे अभियान में खास तौर पर शामिल हुए। सीएम योगी के निर्देश के मुताबिक जनपद, ब्लाक एवं ग्राम पंचायतों पर व्यापक रूप से कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को हैण्ड वाशिंग के महत्व के बारे में जागरूक किया गया।
दस्तक कार्यक्रम के अंतर्गत, एएनएम, आशा, आंगनवाड़ी, स्कूल शिक्षक व एसएचजी के सदस्यों ने अलग अलग समुदायों में 10 घरों का समूह बना कर हाथ धोने का डेमो दिया। लोगों को साबुन से हाथ धोने के मुख्य 6 चरणों की जानकारी दी गई । कोविड-19 महामारी संक्रमण काल में भोजन के पहले, नाक, मुंह व आँखों को छूने के बाद, खांसने एवं छींकने के बाद, शौच के बाद एवं शौचालय के उपयोग के पश्चात् हाथ धोने के महत्‍व को आम लोगों खास तौर पर ग्रामीण इलाकों को बताया गया ।
प्रत्येक लेबर रूम स्वास्थ्य केन्द्र के वॉश बेसिन और हैण्‍ड वाशिंग स्टेशन को कोहनी से संचालित नल लगाने व साबुन के साथ कार्यात्मक बनाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान हैण्ड-हाइजीन विषयक प्रशिक्षण, हैंड वाश का प्रदर्शन, स्‍वच्‍छता विषयक पोस्टर व निबंध प्रतियोगिता, वाद-विवाद प्रतियोगिता आदि का आयोजन कर लोगों को जागरूक किया गया।

About dhamaka