Breaking News
Home » Entertainment » महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा ;सिनेमा भाषा, जाति, धर्म और नस्ल से परे

महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा ;सिनेमा भाषा, जाति, धर्म और नस्ल से परे

Image result for panaji film festival 2019

इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (IFFI) गोआ के पंजिम में होने जा रहा है। यह शो 20 नवंबर से शुरू होकर 28 नवंबर का खत्म होगा। इस कार्यक्रम में सिनेमा की तमाम हस्तियों को उनके योगदान के लिए सम्‍मानित किया जाएगा। सुपरस्‍टार रजनीकांत और अमिताभ बच्चन को इस कार्यक्रम में बड़ा सम्‍मान मिलने जा रहा है। वहीं कार्यक्रम उद्घाटन समारोह में अमिताभ बच्चन ख़ास मेहमान है

Image result for panaji film festival 2019
महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा है कि तेजी से विखंडित होती दुनिया में केवल सिनेमा ही एक ऐसा माध्यम है जो लोगों को आपस मे बांधे रख सकता है क्योंकि सिनेमा भाषा, जाति, धर्म और नस्ल से परे होता है।

दादा साहब फाल्के अवार्ड के लिए चयनित बिग बी ने अपनी फिल्मों के पुनरावलोकन का उद्घाटन करते हुए यह टिप्पणी की। कल से यहां शुरू हुए 50 वां दादा साहब फाल्के अवार्ड में बच्चन की छह फिल्में दिखाई जा रही हैं। पुनरावलोकन का आगाज़ उनकी ‘पा’ फ़िल्म से हुआ।

Related image

बच्चन ने दादा साहब फाल्के अवार्ड के लिए सरकार के प्रति धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि वह इस प्रतिष्ठित सम्मान को प्राप्त करके कृतज्ञ महसूस कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा है कि वह इस सम्मान के वास्तविक हकदार नही हैं फिर भी लोगों के प्यार को देखते हुए इस पुरस्कार ले रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वह ऐसी फिल्में बनाएंगे जो लोगों को जोड़कर रखें। बच्चन ने फ़िल्म समारोह की तारीफ करते हुए कहा कि यह 50 वां समारोह है। हर साल इसके डेलिगेट्स की संख्या बढ़ती जा रही है।वह इसके सुंदर आयोजन के लिए सरकार को बधाई देते हैं। पुनरावलोकन में उनकी ‘दीवार’, ‘शोले’ ‘पीकू’ ‘बदला’ और ‘ब्लैक’ फिल्में भी दिखाई जाएगी।

About dhamaka