Breaking News
Home » National » भारत को मिली बड़ी जीत! UNSC की स्थायी सदस्यता के लिये रुस का भी मिला साथ

भारत को मिली बड़ी जीत! UNSC की स्थायी सदस्यता के लिये रुस का भी मिला साथ

Spread News with other

लद्दाख सीमा विवाद पर बने तनाव के बीच रूस ने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन किया है। रूस ने सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिए भारत की उम्मीदवारी का समर्थन किया है। रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा है कि भारत भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनने के लिए एक मजबूत उम्मीदवार है।

लावरोव ने कहा, आज हमने संयुक्त राष्ट्र के संभावित सुधारों की बात की और भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनने के लिए एक मजबूत उम्मीदवार है और हम भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करते हैं। हमारा मानना है कि वह सुरक्षा परिषद का पूर्ण सदस्य बन सकता है।

रुस के विदेश मंत्री का यह बयान इसलिये भी महत्वपूर्ण है कि पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में 15 जून को ही भारतीय सेनाऔर चीनी सेना आपस में टकराये थे। जिसमें चीनी सेना ने घात लगाकर निहत्थे भारतीय सेना पर हमला कर दिया तो 20 सेना शहीद हो गए। जबकि 40 से अधिक चीनी सेना के भी मारे जाने की बात कही गई है। जिसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव एक बार फिर चरम पर है। हालांकि दोनों देशों ने तनाव को कम करने के लिये तकरीबन 12 घंटे तक बैठक भी की है। जिसमें कुछ बिंदु पर सहमति भी बनी है।
बता दें कि रुस से पहले आस्ट्रेलिया ने भी संयुक्त राष्ट्र में स्थायी सदस्यता के लिये भारत का समर्थन किया है। आस्ट्रेलिया ने WHO की कार्यकारी परिषद के अध्यक्ष के तौर पर भारत की ताजपोशी को सकारात्मक बताया है। वहीं भारत-चीन विवाद पर टिप्पणी करते हुए रुस के विदेश मंत्री ने कहा कि दोनों देशों के नेतृत्व इस विवाद को खत्म करने के लिये सक्षम है। उन्होंने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि दोनों देशों के बीच तनाव के वाबजूद बातचीत हुई है। वहीं भारत पिछले सप्ताह ही संयुक्त राष्ट्र का अस्थायी सदस्य बना है। भारत के पक्ष में 184 वोट पड़े थे। भारत 8 वीं बार संयुक्त राष्ट्र का अस्थायी सदस्य बना है।

About dhamaka