Breaking News
Home » International » बातचीत से ही मिल सकता है मसूद अजहर पर प्रतिबंध मामले का सही हल’:चीन

बातचीत से ही मिल सकता है मसूद अजहर पर प्रतिबंध मामले का सही हल’:चीन

पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए 13 मार्च को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक प्रस्ताव लाया जाएगा। इसी बीच अब चीन ने भी इस मुद्दे पर अपना पक्ष रखा है। चीन ने सोमवार को कहा कि केवल बातचीत के जरिए ही इसका ‘जिम्मेदार समाधान’ निकल सकता है।
चीन ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव को कम करने में अपनी बातचीत में सुरक्षा मुद्दों को एक महत्वपूर्ण विषय बनाया गया है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ (केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल) पर हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसके बाद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में एक प्रस्ताव पेश किया था।

रिपोर्ट के अनुसार 13 मार्च को यूएनएससी की ‘1267 समिति’ द्वारा इस प्रस्ताव को उठाए जाने की उम्मीद है। भारत और यूएनएससी के अन्य सदस्यों द्वारा लाए गए इस तरह के प्रस्तावों पर तीन बार रोड़े अटका चुके चीन ने अभी अपने रुख की घोषणा नहीं की है।

About dhamaka