Breaking News
Home » States » प्रियंका गांधी वाड्रा ने अमेठी में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन नुक्कड़ सभा, रोड-शो जनसम्पर्क स्थापित किया

प्रियंका गांधी वाड्रा ने अमेठी में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन नुक्कड़ सभा, रोड-शो जनसम्पर्क स्थापित किया

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की महासचिव एवं पूर्वी उ0प्र0 प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा  ने आज संसदीय क्षेत्र अमेठी में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन नुक्कड़ सभा, रोड-शो आदि माध्यमों से सघन जनसम्पर्क स्थापित किया। कार्यक्रम में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष  राहुल गांधी जी ने भी कोरांव के महिला संवाद कार्यक्रम में शिरकत कर सम्बोधित किया। यहां पर अ0भा0 महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुश्री सुष्मिता देव सांसद एवं पूर्व सांसद श्रीमती अन्नू टण्डन  भी उपस्थित रहीं।
उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डा0 उमा शंकर पाण्डेय ने बताया कि  प्रियंका गांधी वाड्रा आज सुबह सर्वप्रथम बल्दीराय ब्लाक के सोरांव पहंुचीं जहां पर उपस्थित जनसमुदाय ने भव्य तरीके से उनका स्वागत किया। यहां पर जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने घोषणा की है कि यदि कोई भी नौजवान अपना कारोबार शुरू करना चाहता है तो तीन साल तक किसी भी सरकारी परमीशन नहीं पड़ेगी और यदि ऐसा नौजवान अन्य बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार देता है तो उसे टैक्स में छूट मिलेगी। उन्होने कहा कि मैं जहां जाती हूं जीएसटी से परेशान दुकानदार रो रहे हैं वह कहते हैं कि कई बार मन करता है कि दुकान बन्द कर दूं। यह सच्चाई है कि मौजूदा सरकार सोच-समझकर नीतियां नहीं बनाती। वे सिर्फ चंद उद्योगपतियों के फायदे को ध्यान में रखकर नीतियां बनाते हैं। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने यह घोषणा किया है कि बारहवीं तक सभी को निःशुल्क शिक्षा तथा सरकारी अस्पतालों में जांच और इलाज मुफ्त होगी।
 इसके बाद श्रीमती गांधी यहां से निकलकर मुसाफिरखाना पहंुचीं जहां पर उपस्थित आम नागरिकों ने बेहद गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया। यहां से हरदोईया शाहगढ़ ब्लाक पहुंचकर श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा जी अपने स्वागत से अभिभूत नजर आयीं। अमेठी की जनता और अपने परिवार की परम्परागत आत्मीय सम्बन्धों का जिक्र करते हुए उन्होने कहा कि मैं और श्री राहुल गांधी जी दस साल की उम्र से अपने पिता स्व0 श्री राजीव गांधी जी के साथ यहां आते रहे हैं तब पिताजी ऊसर जमीन को दिखाकर बताते थे कि यह नमक वाली जमीन है। आज पिताजी की मेहनत के फलस्वरूप इन खेतों में हरियाली दिखाई दे रही है। इस हरियाली के लिए, इन सड़कों के लिए उन्होने बहुत मेहनत की। यही मेहनत मेरी मां श्रीमती सोनिया गांधी जी ने किया और अब श्री राहुल गांधी जी कर रहे हैं। आपकी आंखों में राहुल जी के प्रति वही प्रेम दिखता है जो राजीव जी के लिए दिखता था आपका प्रेम सच्चा है। हम आपकी सेवा इसलिए करते हैं क्योंकि आपने हमारे परिवार को जिताकर नेता बनाया है। इसके लिए वे आपके आभारी हैं। दूसरी तरफ ऐसी पार्टी के लेाग भी यहां पर आ रहे हैं जो बड़े-बड़े मीडिया वालों को लेकर आते हैं और ऐसे प्रेाग्राम रखते हैं जिससे अमेठी की जनता की भावनाओं का अपमान करते हैं। अभी एक कार्यक्रम में इन्होने जूते बंटवाया और दुनिया भर में उन्होने कहा कि देखो अमेठी वालों के पास जूते भी नहीं है मुझे वहां जाकर जूते बांटने पड़ते हैं। ऐसा करके वह सोच रही हैं कि वह राहुल गांधी जी का अपमान कर रही हैं। लेकिन वे अपमान कर रही हैं अमेठी की जनता की जागरूकता का। उन्होने कहा कि यहां की जनता इतनी जागरूक है कि जब भी उन्हें कोई शिकायत हुई तो उन्होने हमसे वह शिकायत दर्ज कराने में देरी नहीं की। हम एक सड़क बनाते हैं तो वे दूसरे सड़क की मांग करते हैं हैण्डपम्प की मांग करते हैं। यही आपकी जागरूकता है। इस सम्बन्ध को एक दूसरे के प्रति श्रद्धा को इस प्रेम को भारतीय जनता पार्टी के लोग नहीं समझ पाते हैं। वे अमेठी की जनता को गुमराह करने की कोशिश करते हैं। उन्होने बिजली के बिल पर भारतीय जनता पार्टी के बड़े-बड़े वादों का जिक्र करते हुए कहा कि एक गांव में एक महिला ने मुझसे कहा कि मेरा बिजली का बिल पैंतीस हजार आया है तब तक दूसरी महिला बोल पड़ी कि मेरा तेा पचास हजार रूपये बिल है।
डाॅ0 पाण्डेय ने बताया है कि यह काफिला कोरवां पहुंचकर स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से संवाद कार्यकम में पहुंचा जहां पर आदरणीय श्री राहुल गांधी जी ने भी शिरकत किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होने कहा कि नरेन्द्र मोदी जी की आरएसएस वाली विचारधारा है जिसके खिलाफ हम पूरे देश में लड़ रहे हैं मैं देश के अन्य प्रान्तों जैसे छत्तीसगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश में इस विचारधारा के खिलाफ लड़ रहा हूं। यह ताकत सिर्फ अमेठी की जनता की मदद से मिलती है। मैं आपके लिए लगातार लड़ रहा हूं। क्योंकि मेरा भी पहला लक्ष्य अमेठी की जनता की मदद करना है। उन्होने उपस्थित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप लोग अमेठी में मेरी आवाज हैं आप जानते हैं कि हमारा और आपका रिश्ता क्या है आपके बिना मैं कुछ नहीं कर सकता था। आप लाखों महिलाओं ने स्वयं सहायता समूह के माध्यम से एक दूसरे की मदद किया है। इसे मैं पूरे देश में लागू करना चाहता हूं। उन्होने कांग्रेस पार्टी के घोषणापत्र में न्याय योजना पर चर्चा करते हुए कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने 15 लाख हर एकाउण्ट में देने का वादा किया था और लेागों के एकाउन्ट भी खुलवाये लेकिन किसी में भी पैसे नहीं आये। क्योंकि यह झूठा वादा था। हमने इस बात पर आर्थिक विशेषज्ञों से राय लेकर न्याय योजना की घोषणा की है जिसके माध्यम से हर गरीब महिला के खाते में 72 हजार रूपये सालाना अर्थात 3.6 लाख रूपये पांच साल में भेजे जायेंगे। इस योजना के अन्तर्गत पांच करोड़ महिलाएं आयेंगी और यह पैसा उनको तब तक दिया जाता रहेगा जब तक उनकी आमदनी 12 हजार रूपये प्रतिमाह नहीं हो जाती। जब हमने यह घोषणा की तब श्री नरेन्द्र मोदी जी ने हमसे पूछा कि यह पैसा कहां से आयेगा, लेकिन जब वे अनिल अम्बानी की जेब में 30 हजार करोड़ रूपये डाल देते हैं तब वे इस पर प्रश्न नहीं उठाते। जब वे दस-पन्द्रह उद्यमी मित्रों का पांच लाख 75 हजार करोड़ रूपये कर्जा माफ कर देते हैं तब वे इस पर बात नहीं करते हैं। हम यही पैसा उनके जेब से निकालकर आपकी जेब में डालेंगे। हमने मनरेगा, सौ दिन से बढ़ाकर 150 दिन करने का निर्णय लिया है, आप जानते हैं कि हमने लाखों महिलाओं की जिन्दगी बदली है। अब बाहर के लोग अमेठी आकर गलत बातें करते हैं। आप गांव में जाकर लोगों को यह बात बतायें। यह पैसा सीधे महिलाओं के बैंक एकाउण्ट में आयेगा क्योंकि महिलाएं इस पैसे को सोच समझकर खर्च करेंगी। उन्होने कहा कि विधानसभा और लोकसभाओं में 33 प्रतिशत महिलाओं को आरक्षण तथा नेशनल लेवल पर सरकारी नौकरियों में भी 33 प्रतिशत आरक्षण का प्राविधान किया जायेगा। इस कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं ने गीत गाकर राहुल गांधी जी को भारी मतों से विजयी बनाने का आर्शीवाद दिया।
श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा जी का काफिला जायस भी पहुंचा जहां पर हजारेां की तादाद में उपस्थित क्षेत्रवासियों ने पुष्पवर्षा एवं फूलमालाओं से श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा जी का भव्य स्वागत किया।

About dhamaka