Breaking News
Home » Main News » तीन राज्यों का विधानसभा चुनावः फुल मोड में BJP की चुनावी तैयारियां

तीन राज्यों का विधानसभा चुनावः फुल मोड में BJP की चुनावी तैयारियां

महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए अभी चुनाव आयोग ने तारीख तय नहीं की है, मगर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तैयारियां फुल मोड में हैं. राज्य से लेकर राष्ट्रीय मुख्यालय पर बैठकों के जरिए पार्टी चुनावी रणनीति बनाने में जुटी हुई है. वहीं पार्टी नेता राज्यों में रैलियां भी करने में जुटे हैं.

हरियाणा और महाराष्ट्र में तो मुख्यमंत्रियों की ओर से चुनावी यात्राएं भी निकाली जा चुकी हैं. महाराष्ट्र में शुक्रवार से तीसरे चरण की जनादेश यात्रा सीएम देवेंद्र फडणवीस शुरू करेंगे. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को तीनों राज्यों के विधानसभा चुनाव के

3 राज्यों के विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की तैयारियां तेजबीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बुलाई महासचिवों की बैठकतीन राज्यों में दौरा और कार्यक्रम कर चुके मोदी- शाह

मद्देनजर पार्टी महासचिवों की बैठक बुलाई है. इस बैठक में तीनों राज्यों में चुनाव जीतने की रणनीति पर विचार विमर्श होगा.

रैलियों का दौर शुरू, मैदान में उतरे मोदी

हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र में भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं ने रैलियां शुरू कर दी हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी प्रचार के मैदान में उतर चुके हैं. इसी से बीजेपी की अग्रिम रूप से चुनावी तैयारियों का पता चलता है. जबकि बीजेपी के अंदाज में अभी विपक्ष चुनावी मोड में नहीं दिख रहा है.

हरियाणा की बात करें तो यहां आठ सितंबर को रोहतक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रैली कर चुनावी बिगुल फूंक चुके हैं. इससे पहले पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और राजनाथ सिंह हरियाणा में रैली कर चुके हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर राज्य में जनादेश यात्रा निकाल चुके हैं.

हालांकि झारखंड और महाराष्ट्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकारी दौरे पर रहे, मगर सरकार के सौ दिनों के काम का हिसाब देकर उन्होंने जनता को रिझाने की भी कोशिश की. गुरुवार को झारखंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधान सभा और सचिवालय के नए भवनों के साथ मल्टी मॉडल टर्निमल आदि परियोजनाओं का उद्घाटन किया. इस आयोजन के बहाने भी प्रधानमंत्री मोदी ने झारखंड में चुनावी अभियान का श्रीगणेश किया. कार्यक्रम में पीएम मोदी ने सौ दिनों का रिपोर्ट कार्ड पेश करन इशारों में ही जता दिया कि निशाना विधानसभा चुनाव हैं.

जनता को योजनाओं की सौगात

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम में किसान, व्यापारियों और आदिवासियों को एक साथ साधा. आदिवासियों का दिल जीतने के लिए एकलव्य मॉडल स्कूल का आगाज किया, वहीं आजादी के बाद पहली बार किसानों को तीन हजार रुपये की पेंशन की भी शुरुआत की. खुदरा व्यापारियों के लिए भी 60 साल की उम्र के बाद तीन हजार रुपये प्रति माह पेंशन की घोषणा की. पेंशन के लिए किसान और व्यापारियों को 18 से 40 वर्ष की उम्रसीमा के बीच पंजीकरण कराना होगा.

बीते सात सितंबर को महाराष्ट्र का दौरा कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई परियोजनाओं की सौगात देने के बहाने जनता को रिझा चुके हैं. वहीं पर एक सितंबर को महाराष्ट्र के सोलापुर में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह रैली कर चुके हैं. पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा की भी महाराष्ट्र में रैली हो चुकी है.

About dhamaka