Breaking News
Home » Sports » टेस्ट क्रिकेट में अब विश्व स्तरीय गेंदबाज नहीं : सचिन तेंदुलकर

टेस्ट क्रिकेट में अब विश्व स्तरीय गेंदबाज नहीं : सचिन तेंदुलकर

महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर क्रिकेट के पारंपरिक प्रारूप टेस्ट क्रिकेट को लेकर चिंतित हैं. उन्होंने इंदौर में एक कार्यक्रम में कहा कि टेस्ट क्रिकेट को लेकर जो दिलचस्पी पहले बनी रहती थी, अब वह समाप्त हो गयी है. उन्होंने यह भी कहा कि टेस्ट क्रिकेट में प्रतिस्पर्धा भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे तीन देशों के बीच ही बची है.

सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट का स्तर नीचे गिरा है जो टेस्ट क्रिकेट के लिये अच्छी खबर नहीं है. क्रिकेट का स्तर ऊपर होने की जरूरत है और इसके लिये सबसे अहम चीज है खेलने वाली पिचें.’ उन्होंने कहा, ‘अगर हम अच्छी पिचें मुहैया करायें जहां तेज गेंदबाजों और स्पिनरों को भी मदद मिले तो गेंद और बल्ले में संतुलन बरकरार रहेगा.’ सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘अगर बल्ले-गेंद के बीच संतुलन नहीं रहेगा तो मुकाबला कमजोर हो जायेगा और यह आकर्षक नहीं रहेगा.’

24 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 200 टेस्ट खेलने वाले सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘सत्तर और अस्सी के दशक में सुनील गावस्कर बनाम एंडी रोबर्ट्स, डेनिस लिली या इमरान खान के बीच गेंद और बल्ले की भिड़ंत देखने का इंतजार रहता था. इसी तरह बाद में मैकग्रा या वसीम अकरम के साथ बल्लेबाजों का मुकाबला आकर्षण का केंद्र रहता था. लेकिन अब ऐसा नहीं है’.

 

About dhamaka