Breaking News
Home » Main News » चीन से विवाद के बीच रूस के लि‍ए रवाना हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह , चीनी नेताओं से मुलाकात नहीं

चीन से विवाद के बीच रूस के लि‍ए रवाना हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह , चीनी नेताओं से मुलाकात नहीं

Spread News with other

चीन से वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर बढ़े तनाव के बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को रूस की यात्रा पर रवाना हो गए हैं। रक्षामंत्री मॉस्को में आयोजित विजय दिवस परेड में शिरकत करेंगे। बता दें कि भारत और चीन के बीच इन दिनों बॉर्डर पर विवाद चल रहा है। ऐसे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का रूस दौरा काफी अहम माना जा रहा है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह नाजी जर्मनी पर विजय हासिल करने की 75वीं वर्षगांठ पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रूस गए हैं। भारतीय रक्षाकर्मी भी इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। इस दौरान वहां चीनी नेता भी मौजूद रहेंगे लेकिन बताया जा रहा है कि राजनाथ सिंह इन शीर्ष चीनी नेताओं से मुलाकात नहीं करेंगे।

राजनाथ सिंह के साथ रक्षा सचिव अजय कुमार और प्रत्येक सशस्त्र बल के एक शीर्ष अधिकारी होंगे। अंतरराष्ट्रीय मंच पर चीनी नेताओं से मुलाकात न करके भारत चीन को घेरने की कोशिश कर रहा है।

रक्षामंत्री ने मास्‍को की तीन दिन की यात्रा पर जाने से पहले ट्वीट कर अपनी यात्रा मकसद भी बताया है। राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर लिखा, रूस की यात्रा से मुझे भारत-रूस रक्षा और रणनीतिक साझेदारी को और गहरा करने के तरीकों पर बातचीत करने का अवसर मिलेगा। मैं मास्को में 75 वें विजय दिवस परेड में भी शामिल होऊंगा।

माना जा रहा है रक्षा मंत्री एस-400 मिसाइल सिस्‍टम की जल्‍द आपूर्ति समेत कई रक्षा सौदों को लेकर चर्चा कर सकते हैं। राजनाथ सिंह का ये दौरा तीन दिनों का होगा, जहां पर वो रूस की विक्ट्री डे परेड के 75 साल पूरा होने पर कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। खास बात ये भी है कि इस दौरान यहां पर चीन के प्रतिनिधि, मंत्री भी शामिल होंगे, लेकिन राजनाथ सिंह उनसे मुलाकात नहीं करेंगे।

आपको बता दें कि भारत की तीनों सेनाओं के 75 सदस्य पहले ही विक्ट्री परेड में हिस्सा लेने पहुंच चुके हैं. इस परेड में रूस और अन्य सेनाओं के साथ भारतीय सेना के जवान भी हिस्सा लेंगे।

About dhamaka