Breaking News
Home » Crime » चीनी जासूस चार्ली पेंग पर प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज़

चीनी जासूस चार्ली पेंग पर प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज़

Spread News with other

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सोमवार को कहा कि उसने चीनी हवाला घोटाले (China Hawala Scam) के सिलसिले में लुओ सांग उर्फ चार्ली पेंग (Charlie Peng) और अन्य के खिलाफ धनशोधन (मनी लॉन्ड्रिंग) का मामला दर्ज किया है। ईडी के एक शीर्ष अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, हमने चीनी हवाला घोटाले में धनशोधन रोकथाम अधिनियम, 2002 (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत धनशोधन का मामला दर्ज किया है।

वित्तीय जांच एजेंसी की ओर से यह कार्रवाई 11 अगस्त को आयकर विभाग द्वारा चिन्हित चीनी संस्थाओं के विभिन्न परिसरों, उनके करीबी सहयोगियों और बैंक कर्मचारियों की तलाशी के कुछ दिनों बाद की गई है। कर विभाग से मिली विश्वसनीय जानकारी के बाद आईटी विभाग की ओर से कार्रवाई की गई थी। जानकारी मिली थी कि कुछ चीनी व्यक्ति और उनके भारतीय सहयोगी फर्जी संस्थाओं की एक श्रृंखला के माध्यम से मनी लॉन्ड्रिंग और ‘हवाला’ लेनदेन में शामिल हैं।
तलाशी अभियान में पता चला कि चीनी व्यक्तियों के इशारे पर विभिन्न डमी संस्थाओं में 40 से अधिक बैंक खाते बनाए गए थे। यह हवाला रैकेट एक हजार करोड़ रुपये का बताया जा रहा है। इन खातों के जरिए एक हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम भेजी गई है।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के एक बयान में यह भी कहा गया है कि एक चीनी कंपनी और इनके सहयोगियों ने भारत में रिटेल शोरूम खोलने के नाम पर 100 करोड़ रुपये की अग्रिम राशि (फर्जी एडवांस) भी ली है। तलाशी के दौरान हवाला लेनदेन और बैंक कर्मचारियों व चार्टर्ड अकाउंटेंट की सक्रिय संलिप्तता के साथ धन की लूट से जुड़े दस्तावेज पाए गए हैं। इसके साथ ही हांगकांग से विदेशी हवाला लेनदेन और अमेरिकी डॉलर के लेनदेन का भी खुलासा हुआ है।

About dhamaka