Breaking News
Home » CM SOOCHNA UP » उत्तर प्रदेश में शिक्षकों पर मेहरबान CM योगी आदित्यनाथ ,31,661शिक्षकों को एक सप्ताह में मिलेगी नियुक्ति

उत्तर प्रदेश में शिक्षकों पर मेहरबान CM योगी आदित्यनाथ ,31,661शिक्षकों को एक सप्ताह में मिलेगी नियुक्ति

Spread News with other

लखनऊ, 20 सितंबर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दो दिन पहले आदेश दिए थे कि 31,661 सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया को एक सप्ताह में पूरा कर लिया जाए। योगी के आदेश का पूरे प्रदेश में स्वागत हुआ। तमाम झंझावातों में उलझने के बाद भी मुख्यमंत्री योगी ने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से 31,661 शिक्षकों की इस नियुक्ति प्रक्रिया को अंजाम तक पहुंचा ही दिया। यह युवा अभ्यर्थियों और बच्चों के भविष्य से जुड़ा हुआ बहुत बड़ा कदम है. इतनी बड़ी संख्या में शिक्षकों की तैनाती युवाओं की आस को तो पूरी करेगी ही, विद्यालयों को समृद्ध भी करेगी। मुख्यमंत्री जी ने आदेश दिया है कि 31,661 पदों की भर्ती प्रक्रिया एक सप्ताह में पूर्ण कर ली जाए। इस प्रक्रिया के पूर्ण होते ही मुख्यमंत्री कुछ अभ्यर्थियों स्वयं देंगे नियुक्ति पत्र शेष को जिलों में ही नियुक्ति पत्र बाटें जाएंगे। यानि एक सप्ताह के पूरे होते होते उत्तर प्रदेश सरकार अपने साढ़े तीन साल के कार्यकाल में बेसिक शिक्षा में 86,367 शिक्षकों की नियुक्ति कर चुकी होगी.  उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित विद्यालयों के दिन बहुरने लगे हैं। लंबे समय से शिक्षकों की कमी से जूझ रहे विद्यालयों को एकमुश्त 31,661 शिक्षक मिलने जा रहे हैं तो महीनों से स्थानांतरण की बाट जोह रहे शिक्षकों की तबादले की आस भी पूरी हो गई।
रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बेसिक शिक्षा विभाग में 54,120 शिक्षक/शिक्षिकाओं के अन्तर्जनपदीय स्थानान्तण की अनुमति प्रदान कर दी। इस स्थानान्तरण में शिक्षिकाओं की सुविधा का विशेष ध्यान रखा गया है। योगी सरकार की शुचिता और पारदर्शिता की नीति को दृढ़ता से लागू करते हुए सम्पूर्ण स्थानान्तरण प्रक्रिया सम्पन्न की गयी है। एनआईसी के साॅफ्टवेयर के माध्यम से स्थानान्तण सम्बन्धी सभी आवेदन पत्रों को वैज्ञानिक आधार पर पारदर्शी प्रक्रिया अपनाते हुए स्वीकार किया गया।
इस स्थानान्तरण प्रक्रिया में 28,306 महिला तथा 25,814 पुरुष शिक्षक लाभान्वित हुए हैं। इनमें 917 शिक्षक/शिक्षिकाएं सशस्त्र बलों के जवानों के परिवारों से जुड़े हैं, जिन्हेें यह सुविधा प्राथमिकता के आधार पर बिना शर्त प्रदान की गई। इनके अलावा, दिव्यांगजन श्रेणी के 2,285 स्थानान्तरण सम्बन्धी आवेदन पत्रों को स्वीकार करते हुए उन्हें स्थानान्तरित किया गया तथा गम्भीर व असाध्य बीमारी से ग्रसित 2,186 लोगों को स्थानान्तरण का लाभ दिया गया।

About Rupali Mukherjee